नौवें सर्किट ने सही निर्णय लिया: अब क्या?